गोधन न्याय योजना छत्तीसगढ़ 2020।दो रूपए किलो बिकेगा गोबर

गोधन न्याय योजना छत्तीसगढ़ 2020।दो रूपए किलो बिकेगा गोबर

गोधन न्याय योजना- आपने तो देखा ही होगा ही हमारे देश में कैसे पशु आवारा कि तरह रोड पे घूमते रहते है।गाय ,भैश , और बैल जिसका किसान कुछ इस्तेमाल नहीं कर पाते उसे ऐसे ही रोड पे छोड़ देते है।इससे कितनी बार रोड पे ऐक्सिडेंट भी हो जाता है।इसी को रोकने के लिए छत्तीसगढ़ सरकार ने गोधन न्याय योजना छत्तीसगढ़ 2020 में लॉन्च किया है।

हरेली पर्व के सुभ अवसर पर इसका सुरूवात किया जाना है।छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बाघेल ने गोधन न्याय के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि हमारी सरकार का इस योजना का लाने का मुख्य उद्देश्य पशु पालन और गोवंश की सुरक्षा का है जिससे की किसानो को इसका फायदा मिल सके और उन्हें कोई नुकसान खेलना ना परे।

गोधन न्याय योजना के लाभ

इस योजना के तहत गांवों में गोठन का निर्माण करने का लक्ष्य है जिससे कि गोधन का संरक्षण किया जा सके।इसमें लगभग 2200 गांवों में गोठान कि निर्माण किया जा चुका है।और लगभग 2800 गांवों में गोठान के निर्माण की प्रक्रिया चालू है।तो लगभग 5000 गोठान का निर्माण किया जाना है।जिससे कि गाव में गोपालक जीतने भी है उनके जीवन यापन में कोई कठिनाई ना आए।जो भी गोबर इकठ्ठा होगा उससे कम्पोस्ट खाद बनाया जाएगा।यह कंपस्ट खाद गोठान में सेल्फ हेल्प ग्रुप को महिलाओं द्वारा बनाया जाएगा।जिससे कि उन्हें आमदनी भी हो।

इसमें सरकार किसान से 2 रूपए प्रति किलो गोबर खरीदेगी और उससे जैवीक खाद तैयार किया जाएगा।जिससे रासायनिक खाद के इस्तेमाल में कमी आएगी और जमीन की उर्वरकता भी बढ़ेगी ।इस योजना से किसान की आए में भी वृद्धि होगी और ग्रामीण अर्थव्यवस्था में सुधार आएगा।इस योजना में जहां सरकार गोबर 2 रूपए खरीदेगी वहीं जा इसका कम्पोस्ट तैयार हो जाएगा तब इसे 8 रूपए प्रति किलो बेचा जाएगा।

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री की माने तो इस तरह की देश में अपने आप में पहली योजना है जिसमें राज्य सरकार किसान से गोबर खरीदेगी जिससे गोबर प्रबंधन को प्रोत्साहन मिलेगा।और आपको जान के हैरानी होगी कि अब छत्तीसगढ़ सरकार गोमूत्र को भी खरीदने कि योजना बना रही है।

अभी गोधन न्याय योजना के आवेदन के लिए कुछ नोटिफिकेशन नहीं आया है।जिससे ही आएगा हम आपको इसकी जानकारी देंगे।तो आप जान गए होंगे गोधन न्याय योजना छत्तीसगढ़ 2020।दो रूपए किलो बिकेगा गोबर के बारे में।

छत्तीसगढ़ समाजिक सुरक्षा योजना

Leave a Comment